पासवर्ड को हिंदी में क्या कहते है? Password In Hindi Meaning

पासवर्ड को हिंदी में क्या कहते है

Password Ko Hindi Mein Kya Kahate Hain / पासवर्ड को हिंदी भाषा मे क्या कहते है? पासवर्ड को हिंदी में क्या कहते है? दोस्तो, आज हम जानेंगे की Password Ko Hindi Mein Kya Kahate Hain और पासवर्ड का हिंदी में मतलब क्या होता है? आज हम इस विषय पर बात करेगे। 

आजकल कोई भी Account हो, फिर चाहे वह Social Media Account हो या फिर Bank Account दोनों ही जगह पासवर्ड की अपनी अहमियत होती है। बिना पासवर्ड के दोनो ही असुरक्षित है। पासवर्ड को लिखने और ऑनलाइन जनरेट करने के अपने अपने तरीके होते है। 

Password Ko Hindi Mein Kya Kahate Hain पासवर्ड को हिंदी में क्या कहते है  

पासवर्ड को हम हिंदी में गुप्तशब्द कहते है। जब हम पासवर्ड लिखते है तब कई सारे शब्दों को मिलाकर एक पासवर्ड बनाते है। इसीलिए इसे हम गुप्तशब्द कहते है। यह एक इंग्लिश शब्द है। कुछ लोग इसे कूटशब्द भी कहते है लेकिन कूटशब्द का अर्थ कोडिंग से होता है। 
जिस प्रकार Pass का अर्थ होता है आगे बढ़ना और Word का अर्थ होता है शब्द। इन दोनों को मिला दे तो, वह शब्द जो हमे आगे बढ़ने में मदद करता है उसे PassWord कहते है। पासवर्ड कई प्रकार के होते है। जैसे Normal Password और Strong Password. हम यह कह सकते है आप चाहे कही पर भी हो पासवर्ड के आपका सम्बन्ध जरूर ही होगा। 

Password क्या है? पासवर्ड को हिंदी में क्या कहते है?

पासवर्ड को हम पासकोड के नाम से भी जानते है। यह एक प्रकार का गुप्त और स्ट्रांग डेटा होता है। जोकि किसी भी यूजर के द्वारा जनरेट किया जाता है। पासवर्ड कई अलग अलग वर्णो से मिलकर बनता है। इसका उपयोग यूजर की पहचान करने के लिए किया जाता है। 
अक्सर लोग उसी पासवर्ड को चुनते है जो उन्हें आसानी से याद रहे। लोग अपने पासवर्ड को याद रखते है। यदि कोई यूजर गलती से अपना पासवर्ड भूल जाता है बस उसे अपना Password रीसेट करना पड़ता है। 

आजकल तो घर के दरवाजे से लेकर मोबाइल फोन तक डिजिटल लॉकर है। आपको अपना पासवर्ड डालकर ही एक्सिस मिलता है। Password के कई प्रकार हो सकते है जैसे पिन पासवर्ड, थंब पासवर्ड आदि। आप कई प्रकार के पासवर्ड को गनरेट कर सकते है। 

What is age limit for Pan Card – Read In Hindi

आमतौर पर पासवर्ड अंको, अक्षरों व अन्य प्रतीक चिन्हों को मिलाकर बनाया जाता है। इस प्रकार के पासवर्ड को सुरक्षित भी माना जाता है।

पासवर्ड जनरेट करने के कई सारे तरीके होते हैं उनमें से एक तरीका यह भी है कि कुछ लोग पासवर्ड लिखने के लिए अपना नाम ही लिखते हैं। कुछ लोग पासवर्ड लिखते समय अपना मोबाइल नंबर पासवर्ड के रूप में प्रयोग करते हैं। लेकिन हमें ऐसा नहीं करना चाहिए हमें एक ऐसा पासवर्ड चुनना चाहिए जो सुरक्षा की दृष्टि से भी अच्छा हो। 

History Of Password पासवर्ड का इतिहास

काफी प्राचीन समय से पासवर्ड का उपयोग होता चला आ रहा है। प्राचीन समय में लोग बोलचाल की भाषा में पासवर्ड का उपयोग करते थे। जैसे सैनिकों की टुकड़ी आपस में पासवर्ड का प्रयोग करती थी तो किसी वस्तु स्थान या फिर अन्य नाम को पासवर्ड के रूप में ही बोलती थी।

आज भी सेना इस प्रकार के पासवर्ड का प्रयोग करती है आपने अक्सर देखा होगा जब आर्मी का कोई भी व्यक्ति आपस में बात करता है तो वह कुछ शब्दों को कोड या पासवर्ड के माध्यम से बोलता है इसका मतलब यही है कि यह उनका पासवर्ड है जो कि किसी बात का संकेत है।

तो पासवर्ड काफी प्राचीन समय से प्रयोग होता हुआ आ रहा है फिर चाहे वह सेंड अधिकारियों के द्वारा प्रयोग किया जाता हो या फिर डिजिटल तरीके से। आजकल पासवर्ड क्या प्रयोग डिजिटल तरीके से होता है क्योंकि हम अक्सर बोलचाल की भाषा में पासवर्ड का प्रयोग नहीं करते हैं।

पासवर्ड का मतलब क्या होता है?

यहां पर Pass का मतलब आगे से है और Word का मतलब शब्द से है। यदि हम गौर से इसे देखें समझे तो इसका अर्थ यह निकलता है कि वह शब्द जो कि हमें आगे बढ़ने के लिए चाहिए उसे हम पासवर्ड कहते हैं।

पासवर्ड एक प्रकार से व्यक्ति की पहचान करने का कोड होता है। पासवर्ड की मदद से हम किसी भी यूजर की पहचान करते हैं क्योंकि एक पासवर्ड अक्सर एक यूजर के पास ही रहता है।

आपने अक्सर ओटीपी पासवर्ड के विषय में भी सुना होगा अक्सर बैंक में यही ओटीपी के द्वारा ही आप लोग इन करते हैं। ओटीपी भी एक प्रकार का पासवर्ड होता है इसके द्वारा हम सिर्फ एक बार ही लॉगिन कर सकते हैं उसके बाद वह ओटीपी यूजलेस हो जाता है। 
दोबारा से हम उस ओटीपी का प्रयोग नहीं कर सकते इसलिए ओटीपी पासवर्ड को भी काफी सुरक्षित माना जाता है। ओटीपी पासवर्ड बैंक के अलावा भी कई स्थानों पर माननीय होता है वह ओटीपी के द्वारा ही यूजर को वेरीफाई किया जाता है।

Law On Password

आज कई देशों में पासवर्ड को लेकर कई सारे कानून भी हैं जिन्हें हम IT Law के नाम से जानते हैं। यदि आप किसी भी व्यक्ति के पासवर्ड को हैक करने की कोशिश करते हैं तो इस पर भी कानून है यह कानून अलग अलग देशों में अलग अलग तरीके से मान्य होते हैं
सोशल मीडिया पर आप सब लोग लगभग एक्टिव रहते होंगे तो आपको यह पता होना चाहिए कि सोशल मीडिया पर भी कई सारे नियम और कानून है यहां पर भी कई सारे IT Law लागू होते हैं। 

IT Law अलग अलग देशों के लिए अलग अलग तरीके से माने हो सकते हैं। आपने देखा होगा लगभग सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म के लो या कानून सभी देशों के लिए अलग-अलग होते हैं कहीं पर यह कानून बहुत ज्यादा कठोर वह कहीं पर यह कानून बहुत ज्यादा ही नर्म होते हैं।

निष्कर्ष :- हम उम्मीद करते है कि आपको Password Ko Hindi Mein Kya Kahate Hain से जुड़े सभी प्रश्नों के उत्तर मिल गए होंगे। यदि आपका इस विषय से जुड़ा कोई भी प्रश्न है तो आप हमें कमेंट के माध्यम से पता कर सकते हैं हम आपकी पूर्ण रूप से मदद करने का प्रयास करेंगे।

FAQ:-

पासवर्ड को हिंदी में क्या बोलता है?

पासवर्ड को हिंदी में गुप्तशब्द बोला जाता है। कूटशब्द का अर्थ कोडिंग से जुड़ जाता है। इसलिए इसे कूटशब्द कहना उचित नही है।